हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान | 5 Big side effect of using Headphone

कान में ब्लूटूथ ईरफ़ोन लगाने से क्या होता है? | हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान | 5 Big side effect of using Earphone |  कानों में ईयरफोन लगाने से क्या प्रभाव पड़ता है?

हैडफ़ोन या ईरफ़ोन के इस्तेमाल से कोई भी संगीत या गाने सुनने पर कितना सुकून मिलता है, है ना ? लेकिन क्या आप जानते है की जो हैडफ़ोन या ईरफ़ोन आप इस्तेमाल कर रहे है वो आपको बहरापन , दिमाग की बीमारी और दिल की बीमारी जैसी तकलीफे दे सकती है|

शोर – शराबे वाले इलाकों में हम मोबाइल फ़ोन या डेस्कटॉप से मिलने वाले साउंड को सन्नी के लिए हम ईरफ़ोन , एयरबर्ड्स या हैडफ़ोन का इस्तेमाल करते है क्योंकि इससे हम बहुत साफ़ तरीके से ध्वनि को सुन पाते हैं| 

लेकिन जितना हैडफ़ोन या ईरफ़ोन जैसे गैजेट का फायदा है उससे कही अधिक नुक्सान भी है| चलिए आज हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान के इस लेख में हैडफ़ोन या ईरफ़ोन के इस्तेमाल से होने वाले नुक्सान और उससे बचाव के तरीको के बारे में जानते हैं|

ईरफ़ोन या हैडफ़ोन लगाने के फायदे | Advantage of using Earphones

ईरफ़ोन या हैडफ़ोन लगाने के नुक्सान को जानने से पहले ये जान लेना आवश्यक है की हम किन किन करने से हैडफ़ोन या ईरफ़ोन का इस्तेमाल करते है व हैडफ़ोन के इस्तेमाल करने से क्या – क्या फायदा है|

हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान
हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान
  • हमारा कान इतना फैला हुआ इसलिए होता है ताकि वह वायु में हो रही कंपन को समेट कर कानो के पर्दो तक पहुंचा सके और ध्वनि को हमारे मस्तिष्क तक पहुंचा सके

 लेकिन ईरफ़ोन या हैडफ़ोन के इस्तेमाल से ध्वनि सीधा कानो के पर्दो तक पहुँचती है जिसके कारन ध्वनि साफ़ और तेज सुनाई देता है|

  • शोर शराबे वाले जगह में भी साफ़ साफ़ संगीत तो हैडफ़ोन या ईरफ़ोन के इस्तेमाल से सुन पाते है| 
  • किसी ध्वनि को बहुत साफ़ साफ़ और गहराई से सुनने के लिए हैडफ़ोन का इस्तेमाल होता है| 
  • हैडफ़ोन या ईरफ़ोन में गाने या संगीत सुनने से आनंद मिलता है| 
  • किसी पब्लिक प्लेस में ध्वनि को अकेले और साफ़ साफ़ सुनने के लिए ईरफ़ोन या हैडफ़ोन का इस्तेमाल करते हैं|

Read Also :- पहले जान लेते हैं कैसे काम करते हैं आपके कान?

हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान | 5 Big side effect of using Headphone

अधिकतर लोगो को ये जानकारी नहीं होती की हैडफ़ोन या ईरफ़ोन के इस्तेमाल से उन्हें कितना नुक्सान पहुँच रहा है लेकिन जानकारी के अभाव में वे इन सब चीजों को इस्तेमाल करते रहते हैं| हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान में बहरापन , दिमाग की बीमारी और दिल की बीमारी जैसे चीजे शामिल है| 

चलिए हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान के बारे में सरल शब्दों में जानते है| अगर आप बहुत ज्यादा हैडफ़ोन या ईरफ़ोन का इस्तेमाल करते है तब ईरफ़ोन या हेडफोन लगाने के इन 5 बड़े नुक़्सानो को जानकार आप भी इनका इस्तेमाल थोड़ा कम जरूर कर देंगे|

बहरापन या सुनाई न देना

ईरफ़ोन या हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान में सबसे बड़ा  नुक्सान  बहरापन आता है क्योंकि ये ऐसी चीज है जिसका प्रभाव हर ईरफ़ोन Usser पर देखने को मिलता है| 

आप ही मन से बताइये की आप ईरफ़ोन या हैडफ़ोन का एक दिन में कुल मिलकर लगभग कितना घंटा इस्तेमाल करते है और कितना प्रतिशत वॉल्यूम पर इस्तेमाल करते हैं| 

हैडफ़ोन या ईरफ़ोन को अधिक से अधिक 1 घंटा तक इस्तेमाल करना ठीक है लेकिन इससे ज्यादा समय तक का इस्तेमाल से कानो का बहरा होना सुरु हो जाता है| 

हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान
हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान

आप शायद सोच रहे होंगे की इतने दिनों से हैडफ़ोन या ईरफ़ोन का इस्तेमाल तो करते आ रहे है लेकिन हमे तो अच्छे से सुनाई दे रहा है लेकिन में आपको बताना चाहता हु की भले ही इस वक्त आप सब कुछ सुन पा रहे है लेकिन ईरफ़ोन या हैडफ़ोन की आवाज आपके कानो को बहुत धीरे धीरे बहरा बनाती जा रही है |

हमेशा हमे अच्छी क्वालिटी का ईरफ़ोन या हैडफ़ोन का इस्तेमाल करना चाहिए और कुल मिलकर 1 घंटा और 50 प्रतिशत वॉल्यूम के साथ संगीत सुन्ना चाहिए इससे कानो पर कोई भी बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है|

Read Also :- TOP 5 DJ हेडफोन जो कानों को हिला दे |

दिमाग पर बुरा असर

शायद आप यह बात जानते होंगे की हम जो ध्वनि सामान्य तौर पर सुनते है तो वह वायु के कम्पन के द्वारा सुनाई देता है लेकिन जब हम हैडफ़ोन लगाते है या ईरफ़ोन कानो में लगाते है तो यह ध्वनि को हमारे कानो तक पहुंचाने के लिए एलेक्ट्रोमेग्नाटिक वेव का इस्तेमाल करती है| 

एलेक्ट्रोमेग्नाटिक वेव दिमाग के लिए तो क्या जानवरो के लिए भी हानिकारक होती है| हैडफ़ोन या ईरफ़ोन को ज्यादा देर तक कानो पर लगाने से हमारे दिमाग पर बहुत गहरा असर पड़ता है इससे हमे सर दर्द होने लगता है , मन अशांत होने लगता है और चक्कर इत्यादि भी आने लगते हैं|

कान का संक्रमण

आपने गौर किया होगा जब आप कोई ईरफ़ोन का इस्तेमाल करते है खास टूर पर जिस ईरफ़ोन का स्पीकर (ड्राइव) प्लास्टिक से पूरी तरह ढाका होता है ऐसे ईरफ़ोन के इस्तेमाल से आपको कानो में दर्द और खुजली जैसा कुछ देकने को मिलता है| 

ज्यादा देर तक लगातार ऐसे ईरफ़ोन को अपने कानो के अंदर लगाकर इस्तेमाल करने से कानो का संक्रमण देखने को मिलता है जिससे कानो में दर्द और खुजली जैसे परेशानिया देखने को मिलती है| 

कान का संक्रमण
कान का संक्रमण

ईरफ़ोन लगाने के कारन जब कानो में दर्द सुरु होता है तब यह कानो के लिए नीलकुल अच्छा नहीं होता और इससे आपको कई बार सर दर्द जैसे परेशानी का भी सामना करना पड़ता है| 

कान का संक्रमण को ख़तम करने के लिए या रोकने के लिए हमें अधिक से अधिक 1 घंटा ही ईरफ़ोन लगाकर रखना चाहिए और ईरफ़ोन को पूरी तरह से कानो में ठुसे बिना ही इस्तेमाल करना चाहिए |

दिल की बीमारी

हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान में दिल की बीमारी ! शायद ये बात आपको बहुत अलग लग रही होगी लेकिन में आपको बता दू की ईरफ़ोन को या हैडफ़ोन इनको कानो पर लगाकर बहुत लम्बे समय तक कोई संगीत या ध्वनि सुनने से कानो पर ही नहीं बल्कि दिल पर भी बहुत बुरा असर पड़ता है| 

दिल पर बुरा असर पड़ने के साथ साथ बूढ़ा होने पर कैंसर जैसे भयानक बीमारी का होने का भी बहुत खतरा रहता है इसलिए डॉक्टर और वैज्ञानिको के अनुसार हमें सलाह दी जाती है की 60 प्रतिशत से अधिक वॉल्यूम पर कुछ भी चीज न सुने| 

जितना कम वॉल्यूम पर संगीत या ध्वनि सुने उतना ही अच्छा होता है हमारे स्वास्थ्य के लिए | 

कान में मैल जमा होना

आपने काफी जरूर गौर किये होने जब आप हैडफ़ोन या ईरफ़ोन को बहुत देर से कानो पर लगाकर इस्तेमाल कर रहे होते है तो आपके कान लाल हो जाते है और कानो में जो गंदगी रहती है वह गिला – गिला सा हो जाता है|

ये जो गिला गन्दगी कानो में जब जाता है इसको जब तक आप खुद से निकल न ले ये कानो से नहीं निकलते और कानो में धीरे धीरे गन्दगी जमा होने लगती है| 

कानो में मैल जमा न हो इसके लिए आपको ध्यान में रखना चाहिए की आप हैडफ़ोन या ईरफ़ोन को इतना देर तक कानो पर लगाकर न रखे जिससे आपके कान गरम हो जाये और गन्दगी कानो में जैम जाये|

इयरफोन को सही तरह से कैसे इस्तेमाल करें?

1. हमेशा अच्छी क्वालिटी का ईरफ़ोन या हैडफ़ोन का इस्तेमाल करना चाहिए और कुल मिलकर 1 घंटा और 50 प्रतिशत वॉल्यूम के साथ संगीत सुन्ना चाहिए इससे कानो पर कोई भी बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है|

2. कान का दर्द को ख़तम करने के लिए या रोकने के लिए हमें अधिक से अधिक 1 घंटा ही ईरफ़ोन लगाकर रखना चाहिए और ईरफ़ोन को पूरी तरह से कानो में ठुसे बिना ही इस्तेमाल करना चाहिए |

3. डॉक्टर और वैज्ञानिको के अनुसार हमें सलाह दी जाती है की 60 प्रतिशत से अधिक वॉल्यूम पर कुछ भी चीज न सुने | जितना कम वॉल्यूम पर संगीत या ध्वनि सुने उतना ही अच्छा होता है हमारे स्वास्थ्य के लिए |

4. कानो में मैल जमा न हो इसके लिए आपको ध्यान में रखना चाहिए की आप हैडफ़ोन या ईरफ़ोन को इतना देर तक कानो पर लगाकर न रखे जिससे आपके कान गरम हो जाये और गन्दगी कानो में जैम जाये|

हेडफोन लगाने के क्या क्या नुकसान होते है?

बहरापन या सुनाई न देना
दिमाग पर बुरा असर
कान का संक्रमण
दिल की बीमारी
चक्कर आना
कान में मैल जमा होना

निष्कर्ष

हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान के इस लेख में हमने वे 5 नुक्सान बताये है जो एक ईरफ़ोन या हैडफ़ोन के उभोक्ता को उठानी पड़ती है या पद सकती है| हेडफोन लगाने के 5 बड़े नुकसान के इस लेख को पढ़कर आप अच्छे से समझ सकते है की आपको इयरफोन को सही तरह से कैसे इस्तेमाल करें? और हेडफोन लगाने के क्या क्या नुकसान होते है? इत्यादि|

Rate this post

Leave a Comment