[10 मिनट में राहत] पतंजलि में दांत दर्द की दवा | दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा

हमारा दांत हमारे शारीर का सबसे मजबूत और ठोस पदार्थो का बना होता है अर्थात हमारे शारीर का सबसे मजबूत भाग हमारा दांत ही होता है| लेकिन दांत में किसी वजह से कीड़ा लग जाये या दांत कहीं से चटक जाये तो बहुत दर्द और तकलीफ होती है इसलिए आज हम दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा के बारे में बता रहे है साथ ही पतंजलि में दांत दर्द की दवा क्या है ये भी जानेंगे|

आपको शायद ये बात जान के हेरानी होगी की हमारा दांत इनैमल की परत से बना होता है जो शारीर का सबसे मजबूत और ठोस पदार्थ है लेकिन कुछ ऐसे खान पान होते है जिसके वजह से दांत में कीड़े लग जाते है और दर्द होता है|

इनैमल की परत के बावजूद यदि दांत में कीड़ा लग जाये या दांत हिल जाये तो बहुत दर्द होता है यह दर्द कभी कभी असहनीय भी हो जाता है लेकिन आज हम आपको बहुत ही कारगर दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा के बारे में बतायेंगे जिसके इस्तेमाल से आपको 10 मिनट में राहत मिलेगी| 

[10 मिनट में राहत] दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा | पतंजलि में दांत दर्द की दवा इस लेख में आपको बहुत जरूरी चीजो के बारे में पता चलेगा जैसे दांत दर्द के कारण, पतंजलि में दांत दर्द की दवा, Dant dard ki tablet इत्यादि|

CONTENTS SHOW

दांत दर्द के कारण – पतंजलि में दांत दर्द की दवा

दांत दर्द का सामान्य कारण होता है दांत के आस पास की नसों में परेशानी आ जाना यह कीड़े लगने, दांतों में सडन, कैल्शियम की कमी, बैक्टीरियल इंफेक्शन, दांतों के परत (इनैमल) में कमजोरी या दांतों में किसी कारण चोट लगने से होता है|

दांत दर्द के कारण
दांत दर्द के कारण – दांत दर्द के घरेलू उपाय

दांत में दर्द के अलग अलग कारण के साथ साथ दांत दर्द के अलग अलग प्रकार भी होते है, कुछ लोगो को दांत का डार्ट जबड़ों से आता हुआ महसूस होता है, कुछ को कानों के इधर से आता हुआ महसूस होता है तो कुछ को सिर के इधर से में दांत का दर्द आता हुआ महसूस होता है|

आमतौर पर दांतों में गन्दगी और सडन के इकट्ठा होने के कारण दर्द होता है, क्योंकि दांतों में सड़न अम्ल पैदा करने वाले बैक्टिरिया में बदल जाता है और अम्ल शर्करा को तोड़कर दांतों की परत पर हमला करते हैं| ( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

दांत दर्द के सामान्य कारण क्या होते है यह निम्नलिखित है|

1. अम्लीय भोजन से दांतों की परत में कमजोरी

हमारे शारीर में अक्सर अधिकतर समस्याओ की जड़ हमारा खान पान और रहें सहन ही होता है, अम्लीय भोजन हमारे दांतों के परत को कमजोर बनाती है जिससे दांतों का दर्द होता है| आपने कभी गौर किया होगा तो किसी खट्टे निम्बू, संतरा, इमली या आम को खाने से आपके दांतों में झनझनाहट महसूस होने लगती है

दांतों की परत में कमजोरी आने से किसी भी प्रकार का खाना खाने से दांत में झनझनाहट की समस्या होने लगती है| बहुत दवाब से ब्रश करने पर भी दांतों की परत में कमजोरी होने लगती है| ( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

2. बैक्टीरियल इंफेक्शन या संक्रमण

जब कोई व्यक्ति आपने दांत को रोजाना कम से कम 1 बार भी साफ़ नहीं करता तब ऐसे में जो खाना उसके दांत में फास जाता है वह सड़ने के बाद बेक्टेरिया फैलाने लगता है इसलिए आपने कई लोगो के मुंह से आते हुए बदबू को महसूस किया होगा| संक्रमण के कारण दांत में कीड़े होने लगते है और ये कीड़े जब दांत की नसों को खराब करने लगते है तब बैक्टीरियल इंफेक्शन या संक्रमण होता है|

यदि कोई व्यक्ति लगभग 2 से 3 सप्ताह तक ब्रश न करे तो बेक्टेरिया के कारण उसके मुंह से इतना गन्दा बदबू आएगा की वह व्यक्ति को बर्दास्त करना मुस्किल हो सकता है| ( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा )

3. दांतों की संवेदनशीलता के कारण झनझनाहट

कोई व्यक्ति हो और उसका दांत कितना भी साफ़ क्यों न हो अगर वह जरुरत से ज्यादा गरम और जरुरत से ज्यादा ठंडा चीज को एक ही बार में यदि दांतों से चबाता है तो दांतों में दर्द जरूर होता है|

दांतों की संवेदनशीलता तब और बढ़ जाती है जब कीड़े या सडन के कारण दांत कमजोर होने लगते है|

4. कमजोर मसूड़े

कई लोगो को दातो में सडन और बेक्टेरिअल संक्रमण हो रखा होता है लेकिन उन्हें पता नहीं चलता | यह गलत तरीके से ब्रूस करने या रोजाना ब्रूस न करने से होता है इसके कारण भी दांतों में बहुत तेज दर्द होती है| कमजोर मसूड़े होने पर ब्रूस करने से या कोई फल इत्यादि खाने से दातों के आस पास से खून निकलने लगता है|

कमजोर मसूड़े के होने से मसूड़ों में सुजन, दर्द, मसूड़े का लाल होना या खुल निकलना ये सब आम लक्षण होते है| इसका इलाज ना किया जाए तो प्रभावित मसूड़े और दांत,अन्य मसूड़ों और जबड़े की हड्डी को भी नुकसान पहुंच सकता है|

( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

5. डेंटल सीलेंट

जैसा की आप जानते होंगे की हमारा दांत इनैमल के परत के अन्दर सुरक्षित रहता है लेकिन जब दांतों में सडन और गन्दगी हो जाती है तब दांतों के बीच में गड्ढे हो जाते है जिसके कारण उस जगह का भाग बहुत ज्यादा सेंसिटिव या संवेदनशील हो जाता है और उस जगह पर कोई भी दवाब या ठंडा गर्म चीज खाने से दर्द होने लगता है|

ऐसे में डॉक्टर डेंटल सीलेंट से उस दरार को बंद कर देते है और यदि जब डेंटल सीलेंट भी दांतों से बहार निकल जाता है या ख़त्म हो जाता है तो भी दांतों में दर्द होता है|

6. केल्सियम की कमी

7. अधिक मीठा खाना

8. चोट के कारण दांतों का हिलना या टूट जाना

( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

यहाँ तक हमने उन सभी मुख्य और सामान्य कारणों के बारे में जाना जिसके वजह से दांतों में दर्द होते है अब आगे हम पतंजलि में दांत दर्द की दवा व घरेलू उपाय के बारे में जानेंगे जिससे दांतों का दर्द 10 मिनट में ठीक हो जाये| साथ ही पतंजलि में दांत दर्द की दवा, Dant dard ki tablet और दांत दर्द की दवा एंटीबायोटिक के बारे में भी जानकारी जानेंगे|

पतंजलि में दांत दर्द की दवा व घरेलू उपाय | Dant dard ka gharelu upay

दांत दर्द के अलग अलग कारणों के आधार पर दांत दर्द के घरेलू उपाय व कारगर दवाओ का उपयोग किया जाता है, पतंजलि में दांत दर्द की दवा व घरेलू उपाय सामान्य इलाज लॉन्ग का तेल और नमक के पानी से कुला किया जा सकता है जिससे उन दांतों में कीड़े के कारण होने वाले दर्द में तुरंत ही राहत मिलती है|

दांत दर्द के घरेलू उपाय व कारगर दवा
दांत दर्द के घरेलू उपाय व कारगर दवा

हल्दी दांत के दर्द के लिए एंटीबायोटिक दवा की तरह काम कर सकता है| हल्दी, नमक और सरसों का तेल का पेस्ट को दांत के दर्द वाले जगह पर लगाने से भी तुरंत राहत मिलती है|

चलिए पतंजलि में दांत दर्द की दवा व कारगर दवाओं के बारे में एक एक करके विस्तार से जानते है|

1. लॉन्ग का तेल

लॉन्ग का तेल
लॉन्ग का तेल – पतंजलि में दांत दर्द की दवा

लॉन्ग का तेल दांत दर्द को तुरंत ठीक करने की बहुत कारगर दवाई है, जिस किसी व्यक्ति के दांतों में सडन आ चुकी है और दांतों में कीड़े लग चुके है उनके दांत के दर्द को तुरंत राहत के लिए लॉन्ग का तेल को रुई से भिगोकर दर्द वाले जगह पर लगाने से बहुत राहत मिलता है|

लॉन्ग के तेल का इस्तेमाल कई सरे शारीरिक परेशानियों में इस्तेमाल किया जाता है जैसे मुँहासे और सिर दर्द इत्यादि में यह कीड़े वाले दांतों पर लगाने से बहुत राहत पहुंचाता है|

2. नमकीन पानी

नमकीन पानी भी दांत दर्द के इलाज में बहुत कारगर होते है| संघ नमक और पानी को एक साथ मिलाकर कुल्ला करने से कीड़े वाले दांत के दर्द में राहत मिलती है|

जिस व्यक्ति को सबसे सरल दांत दर्द का तुरंत इलाज चाहिए वे इस दांत दर्द के घरेलू उपाय को अपना सकते है यह बहुत कारगर है|

3. लहसुन का प्रयोग

लहसुन में Allicin नाम का प्राकृतिक एंटी बेक्टेरिअल गुण पाए जाते है इसको चबाने से संक्रमण के कारण हो रहे दांत के दर्द से राहत मिलती है|

लहसुन के पेस्ट को भी कीड़े लगे हुए दांतों में लगा सकते है यह भी दांत के दर्द को कम करने में सहायक है| ( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

4. हल्दी का प्रयोग

हल्दी सबसे प्राकृतिक चीज है जिसमे प्राकृतिक रूप से एंटी बायोटिक और एंटी बेक्टेरिअल गुण पाए जाते है| दांत दर्द से छुटकारा पाने के लिए हल्दी, नमक और सरसों तेल का लेप बना कर दर्द वाले जगह पर लगाने से बहुत राहत मिलती है|

हल्दी, नमक और सरसों तेल का लेप को कीड़े लगे हुए काले दांतों पर लगाने से भी दर्द में तुरंत राहत देखने को मिलती है|

5. ठंडा बर्फ

बहुत तेज दांत दर्द हो रहा हो तो बर्फ के टुकडो को किसी कपडे में लपेटकर सेकाई करने से भी दांतों के दर्द में बहुत ज्यादा राहत मिलती है| यह उपाय दांत दर्द के घरेलू उपाय में सबसे आसान और जल्दी राहत देने वाला है|

6. गुआवा के हरी पत्ती का रस

अमरुद (गुआबा) के बिलकुल हरी और ताज़ी पत्ती के रस से दांतों में हो रहे दर्द में राहत मिलती है यह बहुत कड़वा लगता है लेकिन दांत दर्द में अमरुद के हरे पत्ते की रस को दर्द वाले जगह में लगाने या नमक और हरे पत्ते के रस से कुल्ला करने पर बहुत जल्द राहत मिलती है| दांत दर्द के घरेलू उपाय में यह उपाय बहुत कारगर हो सकता है|

7. निम्बू का रस और हिंग

निम्बू के रस में चुटकीभर हिंग को साथ में मिलाकर दर्द वाले दांत पर लगाने से तुरंत दांत के दर्द में राहत देखने को मिलता है यह दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवाओं में सबसे कारगर उपचार है|

हिंग और निम्बू के रस के लेप को कीड़े वाले दांतों पर लगाने से तुरंत लाभ पहुँचता है|

8. काली मिर्च पाउडर

पानी में नमक और काली मिर्च पाउडर को साथ में मिलाकर कुला करने से भी दांतों के दर्द में तुरंत आराम देखने को मिलता है|

( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

9. हार्ड लिक्विड का प्रयोग

यदि किसी बच्चे को किसी चोट या ज्यादा चोकलेट खाते रहने से दांतों में सडन आ गयी है और कीड़े लगने के कारण दर्द हो रहा है तो, एक रुई के टुकड़े में शराब या वोटका के दो से चार बूंद को गिला करके दांत पर रुई का टुकड़ा लगाने से दांत दर्द तुरंत थम जाता है|

हार्ड लिक्विड का प्रयोग एक से दो बार बहुत लाभकारी हो सकता है लेकिन पूरी तरह से उपचार के लिए रोजाना दांतों की सही और अच्छे तरीके से सफाई रखना आवश्यक है जिससे दांतों में कीड़े न लगे|

10. हाइड्रोजन पेरॉक्साइड

हाइड्रोजन पेरॉक्साइड
हाइड्रोजन पेरॉक्साइड – दांत दर्द के घरेलू उपाय

हाइड्रोजन पेरॉक्साइड एक लिक्विड एंटिक सेप्टिक है जिसका उपयोग दांत दर्द के तुरंत इलाज के लिए किया जाता है अगर आपको बहुत ज्यादा दांत का दर्द होता रहता है तो आपको एक बार हाइड्रोजन पेरॉक्साइड लगाकर जरूर देखना चाहिए|

हाइड्रोजन पेरॉक्साइड एक तरल एंटी सेप्टिक है जो कीड़े के कारण हो रहे दांतों के दर्द को ठीक करने में बहुत सहायक है|

यह तक हमने बहुत से दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवाओं के बारे में बात की चलिए अब आगे हम थोडा ये भी जान लेते है की पतंजलि में दांत दर्द की दवा क्या है|

READ MORE

पतंजलि में दांत दर्द की दवा

जैस अकी आप जानते ही होंगे की पतांजलि जो की भारत में सबसे प्रसिद्ध आयुर्वेदिक खाद्य पदार्थ और दवाइया बनाने के लिए जानी जाती है जो बिना किसी साइड इफ़ेक्ट और बिना किसी हानिकारक केमिकल के इस्तेमाल से बनता है ऐसे में पतंजलि में दांत दर्द की दवा क्या है और है तो उसके बारे में जानते है|

पतंजलि में दांत दर्द की दवा
पतंजलि में दांत दर्द की दवा

patanjali में लगभग हर एक प्रकार के शारीरिक रोगों के लिए दवाइया उपलब्ध है ऐसे में दांत के दर्द में भी पतंजलि का दवाई के बारे में बताई गयी है पतंजलि में दांत दर्द की दवा – पतंजलि में दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा निम्नलिखित है|

पतंजलि में दांतों के दर्द के लिए किसी भी प्रकार का कोई टेबलेट या दवाई के इस्तेमाल के बारे में नहीं बताया गया है| पतांजलि स्टोर में आपको कुछ प्रकार के दांतों को सही से साफ़ करने वाले मंजन और टूथ पेस्ट जरूर मिलते है और कुछ उपाय भी है जिससे दांतों की समस्याओ को दूर किया जाता है|

1. दन्त कान्ति मंजन – पतंजलि में दांत दर्द की दवा

दन्त कान्ति मंजन
दन्त कान्ति मंजन – पतंजलि में दांत दर्द की दवा

दांतों में हमेशा दर्द रहता है, सडन और बदबू की समस्या होती है तो पतंजलि का दन्त कान्ति मंजन का प्रयोग किया जा सकता है| पतंजलि दन्त कान्ति दांतों को पूर्ण रूप से साफ़ और मसूड़ों को स्वस्थ रखने के लिए बनाया गया है इसके इस्तेमाल से किसी भी प्रकार की दांतों की दर्द की समस्या से दूर रह सकते है| ( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

2. दन्त कान्ति टूथ पेस्ट – पतंजलि में दांत दर्द की दवा

दन्त कान्ति टूथ पेस्ट
दन्त कान्ति टूथ पेस्ट – पतंजलि में दांत दर्द की दवा

यह टूथ पेस्ट भी पतंजलि के द्वारा निर्माण किया गया है, इसमें लॉन्ग, हल्दी, अकरकरा, मिस्बाक, नीम और तेलबीज जैसे आयुर्वेदिक पदार्थों का इस्तेमाल किया गया है जो दांतों और मसूड़ों की सेहत के लिए बहुत ही अच्छे और लाभदायक होते है|

दांतों के दर्द जैसी समस्या से जुन्झाने वाले व्यक्ति को रोजाना दन्त कान्ति मंजन या टूथ पेस्ट से ब्रश करने से इसकी समस्या से दूर हुआ जा सकता है| ( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

3. नरम टूथ ब्रूस

बाबा रामदेव जो पतंजलि के ब्रांड एम्बेजेडर है वे सलाह देते है की हमेशा मुंह धोते समय बिलकुल नरम और सॉफ्ट ब्रश का इस्तेमाल करना चाहिए जिससे दांत अच्छी तरह से और कोने कोने से साफ़ हो सके|

( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

4. खाने के बाद हमेशा कुल्ला करें

पतंजलि कंपनी के बाबा रामदेव का कहना है की यदि किसी व्यक्ति को दांतों की दर्द, सडन, मसूड़ों की दर्द इत्यादि की परेशानियां होती है तो उसका सबसे बड़ा कारण है मुंह का साफ़ न करना|

यदि व्यक्ति खाना खाने के बाद ब्रश नहीं कर सकता तो कुल्ला कम से कम जरूर करना चाहिए इससे दांतों की सारी गन्दगी लगभग साफ़ हो जाती है और दांतों में सडन नहीं होती|

उपरोक्त ये कुछ थे पतंजलि में दांत दर्द की दवा और उपचार, पतंजलि में दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा बहुत सारी है और पतंजलि में दांत दर्द की दवा में हमने विस्तार से ऊपर बताया है जिसको पढ कर आप दांत दर्द में बहुत राहत पा सकते है| चलिए आगे थोडा दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए इसके बारे में जान लेते है|

दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए | Patanjali Mein dant Dard Ki Dawa mein kya nahi khaana chahiye

दांत दर्द से पीड़ित व्यक्ति को निम्नलिखित में से कुछ भी चीजे नहीं खाने चाहिए क्योंकि यह दांत दर्द की समस्याओं को बढ़ा सकता है|

1. अम्लीय भोजन

दांत दर्द में या सामान्य दिनों में भी अम्लीय भोजन को बहुत ज्यादा मात्र में लगातार नहीं खाना चाहिए क्योंकि अम्लीय भोजन में अम्ल होता है जो दांतों के इनैमल को कमजोर कर देती है जिससे दांतों में दर्द और झनझनाहट होती है|

2. खट्टी चीजे

खट्टी चीजो में भोजन, पेय पदार्थ और फल भी आते है, लगातार खट्टे चीजो का शेवन करने से निश्चित तौर पर दांतों में झनझनाहट होती है क्योंकि इससे दांतों की इनैमल की परत को नुक्सान पहुँचता है जिससे दांतों में दर्द की समस्या होने लगती है|

3. अधिक मीठी चीजे

अधिक मीठी चीजे या मिठाई खाने से दांतों में बहुत जल्दी कीड़े और सडन पकडती है जिससे दांत दर्द की समस्या होती है| हमेश किसी भी तरह की मीठी चीजे खाने के बाद एक बार दांतों को कुल्ला से साफ़ जरूर कर लें वरना ये दांतों को सदाने में बहुत ज्यादा योगदान देता है|

4. बहुत गर्म चीजे

यदि किसी को दांत दर्द की समस्या है तब भी और नहीं है तब भी अचानक से बहुत ज्यादा गर्म चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए| अचानक से बहुत ज्यादा गर्म या ठंडा खाने से दांतों के नसों में बहुत तेज झनझनाहट होता है जिससे तुरंत दांत के दर्द होने का खतरा भी रहता है|

दांत दर्द में डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए

जब भी कभी आपको दांत दर्द की अचानक समस्या हो तो जितना हो सके दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा का प्रयोग करके उपचार करना चाहिए अगर फिर भी दांत का दर्द ठीक न हो तो जरूर डॉक्टर के पास जाकर चेक करवाना चाहिए|

ऐसी स्थिति में डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए

  • जब दांत का दर्द असहनीय और तेज हो रहा हो|
  • जब घरेलु उपचार से भी दांत का दर्द ठीक न हो|
  • जब दांत में किसी चोट के लगने पर मसूड़े या आस पास की जगह में सुजन हो चुकी हो|
  • मसूड़ों से बहुत ज्यादा खून आता हो|
  • यदि मसूड़ों में दर्द होता हो|

उपरोक्त स्थिति में एक व्यक्ति में दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा के उपचार से भी रहत न मिलने पर डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए| यहाँ तक हमने दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा इत्यादि के बारे में बहुत बात कर ली अब आगे थोडा Dant dard ki tablet, दांत दर्द की टेबलेट नाम लिस्ट या दांत दर्द की अंग्रेजी दवा के बारे में भी जान लेते है|

Dant dard ki tablet | दांत दर्द की टेबलेट नाम लिस्ट

यदि दांत का दर्द असहनीय हो और घरेलु उपचार से भी ठीक नहीं हो रहा हो तब Dant dard ki tablet या दांत दर्द की अंग्रेजी दवा का लेना एक अच्छा निर्नेय हो सकता है एस्पिरिन और आईब्रूफेन ये दो बहुत अच्छी दांत दर्द को कम करने की अंग्रेजी टेबलेट है|

दांत दर्द की टेबलेट नाम लिस्ट निम्न प्रकार है:

1. एस्पिरिन

यह डॉक्टर के सलाह पर ली जाने वाली दवा है इसको दांत के दर्द को कम करने और मसूड़े की सुजन इत्यादि को कम करने में इस्तेमाल किया जाता है| इस दवाई को डॉक्टर उम्र, लिंग, बिमारी की गंभीरता और बिमारी के आधार पर देते है|

एस्पिरिन दांत दर्द की टेबलेट बहुत अच्छी और कारगर टेबलेट है इससे दांत की दर्द को ठीक करने में बहुत आसानी होती है| ( दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा और पतंजलि में दांत दर्द की दवा )

2. आईब्रूफेन

इस दवाई को बिना डॉक्टर के पर्ची के मेडिकल स्टोर से ख़रीदा जा सकता है| यह दवाई खास तौर पर दांत दर्द को कम करने और मसूड़े के सुजन इत्यादि को कम करने के लिए बनाया गया है| इसका उपयोग शारीर दर्द, पीरियड्स का दर्द, मोंच का दर्द और बुखार में भी इस्तेमाल किया जाता है|

यह आईब्रूफेन दांत दर्द की टेबलेट बहुत अच्छी और कारगर टेबलेट है इसके इस्तेमाल से कुछ ही मिनटों में दांत की दर्द में राहत मिल जाती है| यदि मसूड़े में दर्द, दांत में सडन और कीड़े लगने के कारण दांत में दर्द हो रहा है और तुरंत इलाज करना चाहते है तो आईब्रूफेन दवाई का इस्तेमाल कर सकते है|

निम्न कुछ Dant dard ki tablet | दांत दर्द की टेबलेट जो तुरंत असर करती है

3. असिटामिनोफेन (टाएलेनॉल)

4. इबप्रोफेन (ऐडविल)

दांत दर्द में तुरंत आराम टेबलेट कौन सी है?

निम्न कुछ दवाइया है जो दांतों में कीड़े, सडन या मसूड़ों में सुजन के कारण होने वाले दर्द पर तुरंत राहत प्रदान करती है|
1. एस्पिरिन
2. आईब्रूफेन
3. असिटामिनोफेन (टाएलेनॉल)
4. इबप्रोफेन (ऐडविल)

दांत दर्द में फिटकरी का उपयोग

फिटकरी (Alum) का प्रयोग दांत के दर्द को ठीक करने में किया जाता है अगर दांत में बहुत ज्यादा दर्द हो रहा है तो फिटकरी के पाउडर को पानी में मिलाके के गरगरा या कुल्ला करते है तो दांत के दर्द की समस्या के साथ साथ मुंह से बदबू आने की समस्या भी दूर हो जाती है|

दांत दर्द का नुस्खा

1. लॉन्ग के तेल को दर्द वाले दांत पर रुई में भिगोकर रखें|
2. हिंग को नमक से साथ मिलाकर पानी से कुल्ला करने से दांत का दर्द ठीक होता है|
3. ठंडा बर्फ को कपडे में लपेटकर सेकाई करने से दर्द में राहत मिलती है|

निष्कर्ष

पतंजलि में दांत दर्द की दवा के इस लेख में हमने दांत दर्द के घरेलू उपाय व पतंजलि में दांत दर्द की दवा के बारे में जितना विस्तार से और सरल सब्द में समझाया जा सकता था हमने समझाया है| दांत दर्द के घरेलू उपाय व दवा के इस लेख में दांत दर्द के कारण, Dant dard ka gharelu upay, पतंजलि में दांत दर्द की दवा, दांत दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए और दांत दर्द की टेबलेट नाम लिस्ट के बारे में भी बताया है|

आशा करते है की आपको पतंजलि में दांत दर्द की दवा के इस लेख को पढ़कर आपको जरूर सही जानकारी मिली होगी|

READ MORE

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment