10 कारगर Khujli ki tablet नाम | पुरे शारीर में Khujli ki tablet देखें: उपयोग, दुष्प्रभाव, और खुराक

खुजली अनव शारीर में होने वाली सबसे सामान्य समस्या में से एक है लेकिन जब यह जरुरत से ज्यादा शारीर में फ़ैल जाते है या दाद, खाज का रूप ले लेते है तब Khujli महीनों तक परेशान करने वाली समस्या भी बन जाती है, आज हम सबसे कारगर khujli ki tablet की जानकारी आपको इस लेख में दे रहे है|

khujli ki tablet तो दवाई की दूकान पर बहुत मिलती है लेकिन आपके लिए सबसे कारगर खुजली की टेबलेट कौन सी हो सकती है उसके बारे में जानने के लिए इस आर्टिकल को पढ़ सकते है|

खुजली कई प्रकार के होते है दाद के कारण, फंगल इन्फेक्शन के कारण, दिनाय इत्यादि और इनके इलाज के लिए तरीका और khujli ki tablet भी भिन्न होते है|

यदि आप किसी भी प्रकार के खुजली की समस्या से परेशान है तो इस आर्टिकल को आगे ध्यान से पूरा पढ़िए इसे पढने के बाद आप अपने लिए बिलकुल सही khujli ki tablet या खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम लिस्ट के बारे में जान पाएंगे|

Khujli होने का कारण और Khujli के प्रकार

सामान्यतः खुजली जो गर्मी के मौसम में होती है उसका कारण गर्मी, धूल व पसीना होता है जो आसानी से रोजाना स्नान करने से ठीक हो जाते है लेकिन शारीर में अधिक खुजली, लाल रंग के चकते, शारीर पर लाल रंग की घमोरियां, दाद व प्राइवेट पार्ट इत्यादि में में खुजली के होने के कई कारण होते है जैसे बेक्टेरिअल इन्फेक्शन, शारीर में सरकार की अधिक मात्रा इत्यादि|

Khujli होने का कारण और Khujli के प्रकार
Khujli होने का कारण और Khujli के प्रकार

Khujli होने के मुख्य निम्नलिखित कारण होते है|

1. धुप, गर्मी, धुल मिटटी के लगातार संपर्क में रहने से व शारीर की सफाई न करने से बेक्टेरिअल इन्फेक्शन होता है जिससे शारीर में खुजली होता है|

2. यदि आपके शारीर के किसी ढके हुए भाग में बहुत पसीना होता है तो इससे शारीर के पसीने वाले स्थान पर बेक्टेरिअल इन्फेक्शन होता है और इससे दाद, खाज व खुजली की समस्या होती है|

3. यदि आप पहले से ही खुजली या फंगल इन्फेक्शन के संक्रमण से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आटे है या उस संक्रमित व्यक्ति की कोई वस्तु इस्तेमाल करते है तब भी आपको खुजली की समस्या होती है|

शारीर के अलग अलग स्थानों पर खुजली होने के कारण खुजली के कई प्रकार होते है जो निम्नलिखित है|

1. टीनिया क्रूरीस :- यह हमेशा हमारे शरीर के अंगो के जोड़ के पास होता है जैसे कोहनी का जोड़ , जांघ अथवा नितंभ के पास|

2. टीनिया पैडिस :- यह पेरों के त्वचा पर होती है सार्वजनिक और गंदे जगहों पर नंगे पाव जाने से टीनिया पेडिस दाद होता है|   

3. टीनिया कैपीटीस :- जो दाद या खुजली सिर पर होता है उसको इस केटेगरी में रखते हैं|

4. टीनिया बार्बी :- यह चेहरे के दाढ़ी या गर्दन पर होता है , अक्सर नै के पास गंदे उस्तरा या चीजो के इस्तेमाल करने पर यह दाद होता है|    

5. टीनिया मनूम :- हांथो पर होने वाले दाद और खुजली को इस केटेगरी में रखते हैं|   

6. टीनिया उन्गुइउम :- जो दाद हांथो और पेरों की उंगली पर होता है उसको टीनिया उन्गुइउम कहते हैं|  

7. टीनिया कोर्पोरिस :- पेरो और हांथो पर होने वाले फंगल इन्फेक्शन को इस केटेगरी में रखते हैं|

जो खुजली बहुत बड़े दाद, खाज और दिनाय जैसे चर्म रोज का रूप ले लेते है उनको ठीक करने के लिए विशेष तरह के दवाई, उपचार व शारीर का रखरखाव करना आवश्यक होता है| 

यदि सामान्य प्रकार की खुजली हो तो उसे बिना किसी दवाई या टेबलेट इत्यादि के ही नीम के पानी से रोजाना स्नान करने या एंटी फंगल क्रीम को लगाने से ठीक किया जा सकता है लेकिन बहुत बड़े स्तर पर फैले खुजली इत्यादि को इलाज करने के लिए khujli ki tablet इत्यादि का इस्तेमाल होता है|

Khujli ki tablet नाम लिस्ट और विशेषताएं

बताये जा रहे जितने भी खुजली की टेबलेट है वह शारीर में हुए दाद, खाज, दिनय या बड़े फंगल इन्फेक्श के कारण होने वाले खुजली को ठीक करने के लिए प्रयोग किया जाता है| निम्न टेबलेट को सामान्य तौर पर होने वाली खुजली में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए|

Khujli ki tablet
Khujli ki tablet – नाम लिस्ट और विशेषताएं

10 कारगर Khujli ki tablet नाम और उसकी विशेषताओं के बारे में जानकारी निम्नलिखित है|

1. Fluconazole Khujli ki tablet

Fluconazole - Khujli ki tablet
फ्लुकोनाजोल – Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Fluconazole

दवाई की विशेषता :- यह Khujli ki tablet मुख्य रूप से दाद खाज, खुजली के इन्फेक्शन को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है यह दवाई दो तरह के IP में आता है और एक दवाई के पत्ते में एक ही टेबलेट होती है|

यह खुजली की टेबलेट टीनिया इन्फेक्शन, Cutaneous और केंडीडिअसिस जैसे इन्फेक्शन में इस्तेमाल की जाती है| डॉक्टर के सलाह के आधार पर फ्लुकोनाजोल (fluconazole) टेबलेट का इस्तेमाल किया जाता है, डॉक्टर आपके शारीर में हुए फंगल इन्फेक्शन के जांच के आधार पर इस दवाई का कितना डोज़ लेना चाहिए ये बताते हैं|

खुराक :- यह Khujli ki tablet कई डोसेज में आती है और डॉक्टर के सलाह अनुसार दिन में 1 बार लेने की सलाह दी जाती है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस Khujli ki tablet को खाने पर सिर दर्द, उल्टी, पेट में दर्द , लाल चकत्ते, दस्त, लीवर में खराबी जैसे साइड इफ़ेक्ट या दुस्प्रभाव देखने को मिल सकता है|

लोकप्रियता :- 8

2. Itraconazole Khujli ki tablet

Itraconazole - प्राइवेट पार्ट में Khujli ki tablet
Itraconazole – प्राइवेट पार्ट में Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Itraconazole

दवाई की विशेषता :-यह खुजली की दवा Intraconazole दो प्रकार के IP में आती है एक Intraconazole-100 और दूसरा Intraconazole-200 में आती है| सुरुवाती डोज में Intraconazole-200 दी जाती है और इसके बाद में Intraconazole-100 दी जाती है|

जब खुजली या फंगल इन्फेक्शन फ्लुकोनाजोल (fluconazole) की टेबलेट से ठीक नहीं होती तब Intraconazole टेबलेट दिया जाता है इस Khujli ki tablet का कोर्स अधिक समय लगभग 2 से 3 महीने का होता है|

खुराक :- डॉक्टर जांच के अनुसार सही खुराक लेने की सलाह देते है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस Khujli ki tablet को खाने पर उबकाई , दस्त, पेट में दर्द , त्वचा पर लाल चकत्ते, लिवर एंजाइम में वृद्धि जैसे साइड इफ़ेक्ट या दुस्प्रभाव देखने को मिल सकता है|

लोकप्रियता :- 8

3. Clotrimazole खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम

Clotrimazole - Khujli ki tablet
Clotrimazole -Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Clotrimazole

दवाई की विशेषता :- यह Khujli ki tablet बिलकुल नए फंगल इन्फेक्शन और दाद, खाज को ठीक करने में इस्तेमाल की जाती है यह खुजली की दवा टेबलेट, क्रीम और एंटी फंगल पाउडर तीनो रूप में आता है| इसके इस्तेमाल नए फंगल इन्फेक्शन को ठीक करने में किया जा सकता है|

इस दवाई का कोर्स लगभग 1 सप्ताह का कोर्स होता है जिसको डॉक्टर की सलाह से लेना चाहिए और नए दाद, खाज खुजली और दिनय जैसे खुजली को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है|

खुराक :- डॉक्टर के चेकअप के अनुसार व्यस्क व्यक्ति को दिन में 2 बार लेने की सलाह दी जा सकती है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस Khujli ki tablet को खाने पर वेजिना से ब्लीडिंग, त्वचा का लाल होना, जी मचलना, उल्टी, स्किन पर रैशेस और पेट में दर्द जैसे साइड इफ़ेक्ट या दुस्प्रभाव देखने को मिल सकता है|

लोकप्रियता :- 8

4. Griseofulvin Khujli ki tablet

Griseofulvin - Khujli ki tablet
Griseofulvin – Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Griseofulvin

दवाई की विशेषता :-यह Khujli ki tablet बहुत लम्बे समय से चलते आ रहे खाज व खुजली को ठीक करने के लिए इस्तेमाल की जाती है| प्राइवेट पार्ट में हो रहे खुजली को ठीक करने के लिए इस टेबलेट का इस्तेमाल किया जाता है| यदि दाद, खाज या दिनाय की समस्या हो तो उसको जड़ से ठीक करने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते है|

यदि भयानक दाद, खाज हो तो यह खुजली की टेबलेट को डॉक्टर आपके वर्तमान स्थिति के अनुसार Griseofulvin 125 mg या Griseofulvin 250 mg लेने की सलाह दे सकते है|

खुराक :- डॉक्टर जांच के अनुसार सही खुराक लेने की सलाह देते है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस दवाई को खाने पर त्वचा पर रैश, मिचली आना, सिर दर्द, चक्कर आना. दस्त जैसे साइड इफ़ेक्ट या दुस्प्रभाव देखने को मिल सकता है|

लोकप्रियता :- 8

5. Miconazole Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Miconazole

दवाई की विशेषता :- यह दवाई मुख्य रूप से फंगल को ख़त्म करता है और फंगल इन्फेक्शन को बढ़ने से रोकता है| यदि प्राइवेट पार्ट में खुजली हो रही हो या दाद, खाज की समस्या हो तो इस Miconazole Khujli ki tablet का उपयोग किया जा सकता है|

खुराक :- यह टेबलेट डॉक्टर अपने जांच के अनुसार लेने की सलाह देते है सामान्यतः एक व्यस्क 1 दिन में 1 टेबलेट ले सकता है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस दवाई को खाने पर उल्टी, सूखा मुँह, बदला हुआ स्वाद , स्वाद महसूस करने की क्षमता में कमी जैसे साइड इफ़ेक्ट या दुस्प्रभाव देखने को मिल सकता है|

लोकप्रियता :- 7

6. Amphotericin B खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Amphotericin

दवाई की विशेषता :- यह एक एंटी फंगल दवाई है जो टेबलेट और इंजेक्शन के रूप में आती है| गंभीर दाद, खाज व खुजली को मिटाने के लिए Amphotericin B खुजली की टेबलेट का उपयोग किया जाता है| कालाजार और ब्लैक फंगस को ठीक करने के लिए भी इस टेबलेट का इस्तेमाल किया जाता है|

खुराक :- यह टेबलेट डॉक्टर अपने जांच के अनुसार लेने की सलाह देते है सामान्यतः एक व्यस्क 1 दिन में 1 टेबलेट ले सकता है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस Khujli ki tablet को लेने पर हल्का ठण्ड लगना, बुखार, उलटी व सिर दर्द जैसे सामान्य दुस्प्रभाव देखने को मिल सकते है|

लोकप्रियता :- 7

READ MORE

7. Terbinafine Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Terbinafine

दवाई की विशेषता :- यह एक एंटी फंगल Khujli ki tablet है और यह क्रीम और टेबलेट दोनों के रूप में आती है| यदि सामन्य दाद, खाज और खुजली हो रखा है तो उसे ठीक करने के लिए इस क्रीम का इस्तेमाल कर सकते है गंभीर स्थिति में टेबलेट का भी उपयोग कर सकते है|

शारीर के कुछ हिस्सों में अथवा हाल ही में दाग के लाल चकते उभरे है या खाज खुजली निकल आया है वह इस क्रीम का इस्तेमाल कर सकते है यह एक एंटी फंगल क्रीम है और काफी असरदार है|

खुराक :- डॉक्टर अपने जांच के अनुसार इस क्रीम या टेबलेट को लेने की सलाह दे सकते है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस Khujli ki tablet को लेने पर लाल चकत्ते, सिर दर्द, सांसों में बदबू , उल्टी, पेट में दर्द जैसे सामान्य दुस्प्रभाव देखने को मिल सकते है|

लोकप्रियता :- 8

8. Econazole खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Econazole

दवाई की विशेषता :- ये खुजली की टेबलेट मुख्य रूप से पैरों में हुए फंगल इन्फेक्शन को ठीक करने के लिए पैरों की खुजली को ठीक करने के लिए बेस्ट खुजली की टेबलेट है| यह टेबलेट शारीर में कवक के संक्रमण को बढ़ने से रोकता है और संक्रमण को ख़त्म करता है|

खुराक :- यह टेबलेट डॉक्टर अपने जांच के अनुसार लेने की सलाह देते है सामान्यतः एक व्यस्क 1 दिन में 1 टेबलेट ले सकता है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस Khujli ki tablet को लेने पर सिर दर्द, सांसों में बदबू , उल्टी, पेट में दर्द, लाल चकत्ते जैसे सामान्य दुस्प्रभाव देखने को मिल सकते है|

लोकप्रियता :- 7

9. Ketoconazole Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Ketoconazole

दवाई की विशेषता :- जैविक संक्रमण के इलाज के लिए यह खुजली की दवाई बहुत अच्छी क्रीम है, दाद या खाज खुजली इत्यादि को ठीक करने के लिए इस क्रीम का प्रयोग किया जा सकता है|

Ketoconazole यह एक एंटी फंगल क्रीम है जो फंगस के संक्रमण को ख़त्म करके उसको बढ़ने से रोकता है और दाद, खाज खुजली को ठीक करता है| नए खुजली को ठीक करने के लिए बहुत कारगर क्रीम है|

खुराक :- डॉक्टर के जांच के अनुसार लेने की सलाह दी जाती है इसको सामान्यतः दिन में 1 बार लेने की सलाह दी जाती है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस Khujli ki tablet को लेने पर उबकाई , पेट दर्द, दस्त, सिर दर्द जैसे सामान्य दुस्प्रभाव देखने को मिल सकते है|

लोकप्रियता :- 7

10. Amphotericin Khujli ki tablet

ब्रांड अथवा नाम :- कई ब्रांड्स के द्वारा विभिन्न नामों से बेचा जाता है लेकिन कार्य समान होता है|

कम्पोजीशन :- Amphotericin (एंटीमाइकोटिक्स)

दवाई की विशेषता :- यह जैविक संक्रमण को ठीक करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली दवाई है इस दवाई का मुख्य काम भयानक खाज खुजली से आराम दिलाना है साथ ही यह कालाजार बिमारी को ठीक करने में भी इस्तेमाल किया जाता है|

यह इंजेक्शन के रूप में दिया जाता है और बहुत गंभीर स्थिति के होने पर दिया जाता है|

खुराक :- डॉक्टर अपने जांच के अनुसार दवाई देते है|

दवाई का साइड इफ़ेक्ट :- इस दवाई को लेने से उल्टी, बुखार, ठंड लगना, एनीमिया , सीने में जलन , तेजी से साँस लेना, सिर दर्द, भूख में कमी, पेट में क्रैम्प जैसे दुस्प्रभाव देखने को मिलते है|

लोकप्रियता :- 7

अभी तक हमने आपको 10 कारगर Khujli ki tablet नाम और उनकी विशेषताएं, खुराक और साइड इफ़ेक्ट के बारे में विस्तृत जानकारी दी है| इस आर्टिकल में हर प्रकार की खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए दवाई का नाम है खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम लिस्ट के बारे में बताई गयी है| आशा है आप जिस जानकारी को पढने इस आर्टिकल में आये थे वह जानकारी आपको मिली होगी|

खुजली में कौन सी टेबलेट काम करती है?

भयंकर दाद खाज से होने वाले खुजली में फ्लुकोनाजोल, इंट्राकोनाजोल और क्लोट्रिमाजोल जैसे Khujli ki tablet का इस्तेमाल कर सकते है इसके साथ एंटी फंगल साबुन और लिक्विड को स्नान करते वक्त जरूर इस्तेमाल करना अच्छा होता है|

बहुत ज्यादा खुजली हो तो क्या करें?

यदि तुरंत घरेलु उपचार चाहते है तो खुजली वाले स्थान पर 1 से 2 बूंद लॉन्ग के तेल का इस्तेमाल कर सकते है इससे राहत मिलती है|

प्राइवेट पार्ट में Khujli ki tablet नाम

प्राइवेट पार्ट के लिए Khujli ki tablet के नाम निम्नलिखित है|
Itraconazole Tablet
Clotrimazole Tablet
Griseofulvin Tablet
Miconazole Tablet
Terbinafine tablet
Ketoconazole Tablet

खुजली की अंग्रेजी दवा नाम tablet

निम्नलिखित दवाइयाँ है जो दाद, खाज के कारण होने वाली खुजली को ठीक करने में इस्तेमाल की जाती है|
फ्लुकोनाजोल (fluconazole)
इंट्राकोनाजोल (Intraconazole)
क्लोट्रिमाजोल (clotrimazole)
ग़्रिसिओफ़ुल्विन (Griseofulvin)
एम्फोटेरिसिं बी (Amphotericin B)
इकोनाजोल (econazole)
माइकोनाजोल (miconazole)
टर्बिनाफिन (terbinafine)
कीटोकोनाजोल (ketoconazole)
एंफोटेरिसिन (amphotericin

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में हमने 10 कारगर Khujli ki tablet नाम के बारे में साथ ही सभी टेबलेट की विशेषताएं, खुराक और दुस्प्रभावों के बारे में विस्तृत जानकारी दी है| इस आर्टिकल को पढ़कर आप अपने शारीर में हुए किसी भी प्रकार की खुजली में कौन सी दवाई व टेबलेट लेनी चाहिए यह जान पाएंगे| आशा करते है आप जिस जानकारी को इस आर्टिकल में पढने आये थे वह जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिली होगी|

READ MORE

1/5 - (1 vote)

Leave a Comment