पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x uses in Hindi

पथरी यह एक ऐसा सब्द है जिसके बारे में सुनने पर सबसे पहला ख्याल दर्द और किडनी का आता है, क्योंकि किडनी में पथरी होना बहुत आम बिमारी है ठीक इसी तरह मानव शारीर के पिताश्य में भी पथरी होता है जिसको पित पथरी कहते है आज हम पित्त पथरी के लिए cholesterinum 3x uses in Hindi के बारे में आपको बताने जा रहे है|

पित में पथरी होना भी किडनी के पथरी जैसा ही एक समस्या है, दोनों में अंतर की बात करे तो किडनी में पथरी शारीर में पानी की मात्रा कम होने व किडनी में कैल्शियम और यूरिक एसिड के जमाव से होता है वही पित में पथरी शारीर में अधिक कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ने व मोटापे के कारण होता है|

पथरी किसी भी प्रकार का हो बहुत असहनीय दर्द का अहसास करवाता है, cholesterinum 3x यह एक हेम्योपोथिक दवाई है जिसको पित्त की पथरी को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है चलिए विस्तार से पित्त पथरी के लिए cholesterinum 3x uses in Hindi के बारे में जानते है|

Contents Show

पित्त की थैली में पथरी क्यों होता है 

वर्तमान समय तक वेज्ञानिक तौर पर यह सिद्ध नहीं किया गया है की पित की थैली में पथरी होने का ठोस कारण क्या है लेकिन रिसर्च के आधार पर इसके होने के मुख्य वजह बतायी गयी है जैसे शारीर में कोलेस्ट्रोल की अधिक मात्रा का बढ़ना या पित की थैली का यकृत के द्वारा भेजे गए रसायन को कंसंट्रेट न कर पाना या पित्त की थैली का कमजोर पड़ जाने के कारण पित में कोलेस्ट्रोल का गाढ़ा पदार्थ का जमना होता है|

पित पथरी के होने के कुछ बहुत मुख्य कारण निम्नलिखित है|

1. शारीर में अधिक कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ जाना|

2. पित की कंसंट्रेट कने की क्षमता से अधिक कोलेस्ट्रोल का शारीर में बढ़ना|

3. अधिक तेल युक्त भोजन करना|

4. शारीर का बहुत अधिक वजन होना|

5. पित्त की थैली की कार्यक्षमता का कमजोर पड़ना|

उपरोक्त कुछ बहुत सामान्य कारण है जिससे पित पथरी होती है| सामान्यतः पित की थैली में पथरी का होना 30 से 40 वर्ष के महिलाओं में देखी जाती है और यह किसी भी उम्र में किसी भी व्यक्ति को हो सकती है| 

लगातार पित्ताशय में कोलेस्ट्रोल की अधिक मात्रा बढ़ने से पित में कोलेस्ट्रोल का गाढा पदार्थ जैसा बन्ने लगता है जिससे और यह पित से बहार न निकल पाने पर पथरी का रूप ले लेता है|

जब पित में पित पथरी का मात्रा अधिक हो जाता है या पथरी का अकार बड़ा हो जाता है तब पित अपना कार्य करने में असमर्थ होने लगती है जिससे पथरी के अचानक असहनीय दर्द का अहसास होता है|

होम्योपैथी में पित्त की थैली में पथरी का इलाज के बारे में बहुत से उपचार बताये गए है जिससे पथरी के मरीजों को राहत मिली है होम्योपैथी का ही एक दवाई Cholesterinum 3x है जो पित पथरी की दवाई के रूप में इस्तेमाल की जाती है| चलिए पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x uses in Hindi के बारे में आगे विस्तार से जानते है|

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई क्या है

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई क्या है
पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई क्या है

Cholesterinum दवाई 3X, 6X, 8X, 12X, 30X, 200X, 12C, 30C, 60C, 200C तक के पोटेंसी में देखने को मिल जाती है| Cholesterinum 3x दवाई इसके नाम से ही आप थोडा बहुत अंदाजा लगा सकते है की यह कोलेस्ट्रोल से सम्बंधित दवाई है| यह दवाई शारीर में अधिक कोलेस्ट्रोल की मात्रा के होने के कारण बीमारी या कोलेस्ट्रोल से सम्बंधित बिमारी के इलाज में काम आती है|

लीवर के द्वारा बनाये जाने वाले कोलेस्ट्रोल की बिमारी अथवा भोजन के द्वारा ग्रहण की गयी कोलेस्ट्रोल के कारण हुई बिमारी के इलाज में यह दवाई काम आती है|

Cholesterinum 3x पित्त की थैली में पथरी का इलाज का बहुत ही कारगर दवाई मानी गयी है| वैसे किसी भी प्रकार का पथरी हो यदि वह आकार में बड़ा हो तो उसे केवल दवाई के सहायता से निकालना मुस्किल होता है लेकिन मध्यम अकार के पित पथरी को नियमित डाइट और अन्य दवाइयों के साथ Cholesterinum 3x लेने से निकाला जा सकता है|

यदि शारीर में अधिक कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ जाये तो हाई ब्लड प्रेशर व हृदय सम्बंधित रोग होते है जिसको ठीक करने में Cholesterinum 3x दवाई बहुत कारगर होती है| 

हमारे शारीर में कोलेस्ट्रोल यकृत (लीवर) में बनती है, क्योंकि Cholesterinum 3x दवाई कोलेस्ट्रोल को शारीर में कम करने व कोलेस्ट्रोल सम्बंधित बीमारियों के इलाज की बहुत कारगर दवाई है इसलिए लीवर से सम्बंधित रोग जैसे लीवर कैंसर व पित्त पथरी के लिए होम्योपैथी में में Cholesterinum 3x को स्पेसिफिक अर्थात बहुत जरूरी दवाई मानी गयी है|

चलिए आगे पित्त पथरी के लिए cholesterinum 3x uses in Hindi के बारे में जानते है|

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x uses in Hindi

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x uses in Hindi
पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x uses in Hindi

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथी में आवश्यक दवाई मानी गयी है अर्थात पित की थैली में पथरी के लिए अन्य उपचार और दवाइयों के साथ Cholesterinum 3x दवाई का होना बहुत आवश्यक है| शारीर के लिए कोलेस्ट्रोल बनाने वाली यकृत से सम्बंधित किसी भी बिमारी के इलाज के लिए Cholesterinum 3x दवाई आवश्यक माना गया है जैसे लीवर कैंसर के होम्योपैथी में इलाज के लिए Cholesterinum 3x का होना आवश्यक है|

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई निम्नलिखित अन्य इलाज में काम आती है|

1. पित्त की थैली में पथरी का इलाज – पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x

Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई शारीर में कोलेस्ट्रोल के कारण होने वाले बिमारी के इलाज में काम आती है, क्योंकि पित की थैली में पथरी बन्ने का कारण शारीर में लगातार कोलेस्ट्रोल की अधिक मात्रा का बनना होता है इसलिए यह दवाई शारीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा को नियंत्रित करके धीरे धीरे पित की थैली की पथरी को तोडती है साथ ही कोलेस्ट्रोल को बढ़ने से रोकती है जिससे पित पथरी का इलाज होता है|

केवल और केवल पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई को इस्तेमाल करने से पथरी का इलाज नहीं होता इसके लिए नियंत्रित डाइट और अन्य आवश्यक दवाइयों का नियमित समय तक सेवन करना अनिवार्य होता है| यह दवाई मध्यम अकार तक के पित की पथरी को धीरे धीरे तोड़ के निकाल देता है जिससे पथरी का दर्द और पथरी दोनों का इलाज हो जाता है|

यदि पथरी का आकर बड़ा हो तो केवल और केवल ऑपरेशन ही पथरी का इलाज होता है|

2. हाई कोलेस्ट्रॉल कम करना – Cholesterinum 3x uses in Hindi

शारीर के लिए कोलेस्ट्रोल आवश्यक होती है जिसकी आपूर्ति लीवर स्वयं आवश्यकता पड़ने पर कर लेता है लेकिन बाहरी कोलेस्ट्रोल युक्त भोजन जैसे तेल से बना आहार, तेल में छना हुआ आहार, मांस, अंडा अथवा डेरी उत्पाद अधिक मात्रा में खाने से शारीर में कोलेस्ट्रोल की बहुत अधिक मात्रा बन्ने लगती है जिससे पित में पथरी के साथ हाई ब्लड प्रेशर व हृदय सम्बंधित रोग जैसे कई रोग होने लगती है|

Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई शारीर में बढे हुए कोलेस्ट्रोल को कम करता है व अधिक बढ़ने से रोकता है जिससे शारीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा नियंत्रित रहती है| पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथी दवाई बहुत अचूक मानी गयी है साथ ही हाई कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भी होम्योपैथी में यह दवाई बहुत आवश्यक और जरुरी मानी गयी है|

इसे पढ़ें

3. यकृत या लीवर के बिमारी में लाभदायक – पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x

कोलेस्टेरिनम 3x होम्योपैथिक दवाई मुख्य रूप से कोलेस्ट्रोल सम्बंधित बिमारी के इलाज के लिए ही निर्मित की गयी है, क्योंकि हमारे शारीर में कोलेस्ट्रोल का निर्माण यकृत (लीवर) करता है इसलिए यदि लीवर में किसी भी प्रकार की बिमारी होती है जैसे लीवर कैंसर इत्यादि तो कोलेस्टेरिनम 3x होम्योपैथिक मुख्य रूप से होम्योपैथि के इलाज में उपयोग की जाती है|

कोलेस्टेरिनम 3x होम्योपैथिक दवाई लीवर की बीमारियों के इलाज के लिए बहुत आवश्यक व कारगर दवाई मानी जाती है| लीवर से सम्बंधित किसी भी प्रकार की बिमारी हो उसको ठीक करने के लिए Cholesterinum 3x दवाई का उपयोग किया जाता है|

ऊपर बताई गयी तीन बीमारियाँ है जिसमे पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x होम्योपैथिक का उपयोग किया जाता है| अतः आप पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x uses in Hindi के बारे में आशा करते है समझ चुके होंगे|

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x दवाई के इस्तेमाल करने के निर्देश

पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x दवाई के इस्तेमाल करने के निर्देश
पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x दवाई के इस्तेमाल करने के निर्देश

Cholesterinum दवाई 3X, 6X, 8X, 12X, 30X, 200X, 12C, 30C, 60C, 200C तक के पोटेंसी में देखने को मिल जाती है लेकिन इसका सबसे अच्छा रिजल्ट कम पोटेंसी 3X, 6X और 30X तक में देखने को मिलती है| यदि इस दवाई को हाई पॉवर में व हाई dossage में इस्तेमाल करते है तो निश्चित तौर पर दवाई के दुस्प्रभाव देखने को मिलते है|

यदि पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x दवाई का इस्तेमाल करना हो तो किसी अच्छे होम्योपैथी के डॉक्टर अथवा क्लिनिक में जाकर इलाज कराये जिससे वह दवाई का लेने का सही तरीका के साथ साथ सही डाइट, सही दिनचर्या इत्यादि के बारे में जानकारी देंगे|

कोलेस्टेरिनम 3x होम्योपैथिक दवाई को लेने पर किसी भी प्रकार का साइड इफ़ेक्ट लम्बे समय में देखने को नहीं मिलता है लेकिन इस्तेमाल से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें|

यहाँ तक हमने पित्त पथरी के लिए Cholesterinum 3x uses in Hindi और कोलेस्टेरिनम 3x होम्योपैथिक दवाई के इस्तेमाल के बारे में कई साड़ी जानकारियाँ विस्तृत रूप में बतायी है| आशा करते है आप जो जानकारी जान्ने आये थे वह जानकारी आपको यहाँ इस लेख में जानने को मिली होगी|

क्या पित्त की थैली की पथरी बिना ऑपरेशन के निकल सकती है?

यदि पित की पथरीआकार में छोटा या मध्यम हो तो नियमित दिनों तक लगातार सही दवाई लेने से व सही डाइट और दिनचर्या को अपनाने से ठीक होने की बहुत संभावना रहती है लेकिन पथरी का आकार बड़ा हो तो उसे किसी भी प्रकार से बिना ऑपरेशन के या केवल दवाई के इस्तेमाल करने निकाला नहीं जा सकता|

क्या पित्ताशय की थैली को हटाए बिना पित्त पथरी को हटाया जा सकता है?

वर्तमान समय में कई उन्नत तकनीक स्वास्थ्य के क्षेत्र में आई है जिसके द्वारा बिना पित्ताशय की थैली को हटाए ही पित की थैली के पथरी का इलाज किया जा सकता है| यदि पथरी आकार में छोटा हो तो उसे दवाई और नियमित उपचार से भी ठीक किया जा सकता है|

पित्त की थैली में पथरी हो तो क्या खाना चाहिए

पित की थैली में पथरी होने का सबसे सामान्य व मुख्य कारणों में से एक शारीर में कोलेस्ट्रोल का अधिक मात्रा का बनना है| यदि पित्त की थैली में पथरी हो तो आपको बिना कोलेस्ट्रोल युक्त खाद्य पदार्थ खाना चाहिए, कोलेस्ट्रोल से युक्त खाद्य पदार्थ जैसे तेल से बना आहार, तेल में छना हुआ आहार, मांस, अंडा अथवा डेरी उत्पाद इत्यादि नहीं खाने चाहिए|

पित्त की थैली कहां होती है

सामान्यतः पित की थैली मानव शारीर के दाहिने भाग में वक्ष स्थल के 4 से 5 अंगुली निचे पाई जाती है|

पित्त पथरी के लिए cholesterinum 3x दवाई के उपयोग|

पित्त पथरी के लिए cholesterinum 3x एक होम्योपैथिक दवाई है जिसको शारीर में बढे कोलेस्ट्रोल को कम करने व कोलेस्ट्रोल से सम्बंधित बीमारियाँ व परेशानियां को ठीक करने के लिए उपयोग की जाती है|

निष्कर्ष

इस पित्त पथरी के लिए cholesterinum 3x uses in Hindi के लेख में हमने कोलेस्टेरिनम 3x होम्योपैथिक दवा के बारे में कई तरह की आवश्यक जानकारी बताई है| कोलेस्टेरिनम 3x होम्योपैथिक शारीर में कोलेस्ट्रोल से सम्बंधित बिमारियों व परेशानियों के इलाज करने के लिए उपयोग की जाती है| यदि आपने यह लेख पूरा पढ़ लिया है तो आशा करते है आपको यह पित्त पथरी के लिए cholesterinum 3x uses in Hindi के लेख में आपके जरुरत की जानकारी जानने को मिलेगी|

READ MORE

Rate this post

Leave a Comment