मोबाइल फ़ोन से जुड़े 90% प्रॉब्लम को खुद ठीक करें | Common mobile phone problem or solution

हर किसी व्यक्ति को मोबाइल फ़ोन में किसी न किसी टेक्निकल प्रॉब्लम का सामना करना ही पड़ता है चाहे वो बैटरी से रिलेटेड हो, फ़ोन के स्टोरेज का प्रॉब्लम हो या मोबाइल का हैंग होना अथवा मोबाइल का अचानक बंद पड़ जाने जैसी प्रॉब्लम हो|

जो लोग बहुत ज्यादा Tech का ज्ञान नहीं रखते या मोबाइल फ़ोन के बारे में टेक्निकल जानकारी नहीं समझते वे लोग इस लेख को पढ़ सकते है इस लेख में मोबाइल फ़ोन से जुड़े 90% प्रॉब्लम को खुद कैसे ठीक कर सकते है इसके बारे में बताया गया है|

इस आर्टिकल को पढ़ कर आप समझ जायेंगे की आपकी मोबाइल फ़ोन की बटेरी जल्दी ख़त्म क्यों होती है? या मोबाइल अचानक स्विच ऑफ क्यों हो जाता है? या मोबाइल के फुल स्टोरेज प्रॉब्लम को दूर कैसे करें? इत्यादि|

इस आर्टिकल में Common mobile phone problem और सलूशन के बारे में बात करने वाले है जैसे मोबाइल में low battery problem कैसे ठीक करें?, मोबाइल का स्टोरेज खाली क्यों नहीं होता?, फ़ोन को रीस्टार्ट करने से क्या होता है? इत्यादि|

फ़ोन को रीस्टार्ट करने से क्या होता है?

बहुत से लोगों ने फ़ोन को रीस्टार्ट करने के बारे में सुना होगा जो लोग पहले से ही मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल करते है वे अपने फ़ोन को बहुत बार रीस्टार्ट भी किये होंगे।

जो लोग पहली पहली बार स्मार्ट मोबाइल फ़ोन या स्क्रीन टच वाला फ़ोन इस्तेमाल करना सुरु किये हैं उनको सायद ये बात न पता हो की फ़ोन को रीस्टार्ट करने से क्या होता है? या फ़ोन को रीस्टार्ट करने से क्या होता है? 

जब हम अपने मोबाइल फ़ोन को बहुत लम्बे समय से बिना स्विच ऑफ किये इस्तेमाल करते रहते है तो मोबाइल फ़ोन में बहुत सारा कचरा या वायरस भर जाता है जिससे स्मार्ट फ़ोन बहुत धीरे काम करने लगता है| 

फ़ोन को रीस्टार्ट करने से मोबाइल फ़ोन में मौजूद सारे वायरस और कचरा मिट जाता है जिससे मोबाइल फ़ोन हल्का हो जाता है और मोबाइल फ़ोन का प्रोसेसर बिना किसी वायरस से बंधे बिलकुल फ्री होकर काम करता है

नोट :- फैक्ट्री रिसेट अलग होता है और मोबाइल फ़ोन को रिसेट करना अलग होता है|

फोन को रीस्टार्ट करने से क्या होगा?

फ़ोन को रीस्टार्ट करने से मौजूदा सभी तरह के आप्लिकेशन जो मोबाइल फ़ोन में काम कर रहे होते है वो पूरी तरह से बंद हो जाते है साथ ही बहुत से फालतू जंक फाइल और वायरस ख़त्म हो जाते है, जिससे मोबाइल फ़ोन का प्रोसेसर सिर्फ उसी चीज पर काम करता है जो हम मोबाइल फ़ोन में करना चाहते हैं| 

फ़ोन को रीस्टार्ट करने से फ़ोन स्मूदली काम करने लगता है इससे कोई मेमोरी फाइल्स और मोबाइल नंबर्स डिलीट नहीं होते|

फ़ोन में फैक्ट्री रिसेट से क्या होता है?

फ़ोन को रिसेट और रिबूट करने से हम केबल उन चीजों को डिलीट करते है या बंद करते है जो वर्तमान में मोबाइल फ़ोन के प्रोसेसर का ज्यादा इस्तेमाल कर रहा होता है इसी के कारन फ़ोन को रीस्टार्ट या रिबूट करने से हमारे फ़ोन की मेमोरी फाइल्स और मोबाइल फ़ोन के नंबर्स डिलीट नहीं होते| 

फ़ोन में फैक्ट्री रिसेट करने पर फ़ोन की वे सभी चीजे डिलीट कर दी जाती है जो मोबाइल फ़ोन कंपनी ने आपको पहले से फ़ोन में नहीं दिए फैक्ट्री रिसेट के बाद मोबाइल फ़ोन में केबल उतना ही चीजे रह जाता है जितना चीज नए नए मोबाइल फ़ोन खरीदने पर था|

मोबाइल फ़ोन को फैक्ट्री रिसेट करने पर मोबाइल फ़ोन के अंदर की सभी चीजे डिलीट हो जाती है इसीलिए जब हमे अपना मोबाइल फ़ोन किसी को सेकंड हैंड बेचना हो तब फ़ोन को फैक्ट्री रिसेट करने के बाद बेचना चाहिए|

मोबाइल फ़ोन की बैटरी जल्दी ख़त्म क्यों हो जाती है?

Common mobile phone problem में से एक है मोबाइल फ़ोन की बैटरी का जल्दी ख़त्म हो जाना| मोबाइल फ़ोन की बैटरी को जल्दी ख़त्म हो जाने का विक्टर प्रोलेम छोटे मोठे स्मार्ट फ़ोन में या 4-5 हजार के मोबाइल फ़ोन में देखने को मिलती है| 

मोबाइल फ़ोन की बैटरी का जल्दी ख़त्म होने का सबसे बड़ा कारन होता है मोबाइल फ़ोन की बैटरी का ख़राब हो जाना| जब किसी फ़ोन की बैटरी फूल जाती है या कसी मोबाइल फ़ोन में बहुत से अलग अलग मोबाइल फ़ोन के चार्जर से फ़ोन की चार्ज करते है तब मोबाइल फ़ोन की बैटरी खरब हो जाती है या होने लगती है|

मोबाइल का बैटरी बैकअप कैसे बढ़ाये?

मोबाइल फ़ोन की बैटरी ख़राब हो जाने से मोबाइल फ़ोन को 100% चार्ज करने पर भी मोबाइल फ़ोन की बैटरी बहुत जल्दी ख़त्म हो जाती है|

फोन अपने आप स्विच ऑफ क्यों हो जाता है?

यह भी Common mobile phone problem है| जब मोबाइल फ़ोन की बैटरी ख़राब हो जाती है तब मोबाइल फ़ोन बहुत लबे समय तक बिना बैटरी के चार्ज के चल नहीं पाती है जिससे मोबाइल फ़ोन 100 प्रतिसत चार्ज होने के बावजूद कुछ ही मिंटो में चालू फ़ोन अचानक से बंद पड़ने लगता है

अगर आप कोई ऐसा मोबाइल फ़ोन इस्तेमाल कर रहे है जिसकी बैटरी बहुत ही पुरानी हो चुकी है तब भी फ़ोन में अपने आप स्विच ऑफ होने का प्रोब्ले होने लगता है|

मोबाइल फ़ोन का स्टोरेज कभी खाली क्यों नहीं होता?

चाहे हमारा मोबाइल फ़ोन 16GB इंटरनल स्टोरेज का हो या 32GB का या 64GB का| बहुत बार ऐसा होता है की हम अपने मोबाइल फ़ोन को फोटो, वीडियो, मोबाइल आप्लिकेशन्स और गाने इत्यादि से मोबाइल फ़ोन का इंटरनल स्टोरेज पूरी तरह भर जाता है और तब हम अपने फ़ोन से फोटो, वीडियो और एप्लीकेशन को डिलीट करके स्टोरेज खली करते हैं| 

पूरा स्टोरेज भर जाने पर जब हम मोबाइल फोन का स्टोरेज खाली करने की कोशिश करते है तब कुछ हद तक फोन का स्टोरेज खाली हो जाता है लेकिन दोबारा कुछ ही दिनों में बिना कुछ किये स्टोरेज फुल होने लगता है| 

स्टोरेज का पसरी तरह खाली न हो पाने की वजह है आपके फ़ोन में ऐसे कुछ फाइल का जमा हो जाना जिसको किसी एप्लीकेशन ने काम करते वक्त बनाया हो लेकिन एप्लीकेशन को डिलीट करने के बावजूद वह फाइल अभी भी फ़ोन में स्थित है| 

मोबाइल फ़ोन में जड़ से स्टोरेज खाली करने के लिए आपको फ़ोन का Contact detailes और फोटो, वीडियो का बैकअप लेकर फ़ोन को पूरी तरह फैक्ट्री रिसेट कर देनी चाहिए इससे आपने फ़ोन के सिस्टम से वे सभी फाइल्स डिलीट हो जायेंगे जो बिना काम के हैं और आपका फ़ोन की स्टोरेज का समस्या जरूर दूर हो जायेगा|

मोबाइल फ़ोन को कंप्यूटर से कैसे कनेक्ट करते हैं?

एंड्राइड मोबाइल फ़ोन को कंप्यूटर से बहुत तरीको से कनेक्ट किया जा सकता है जैसे USB केबल के द्वारा Wi-Fi कनेक्शन के द्वारा एप्लीकेशन के द्वारा और वेबसाइट के द्वारा भी| अगर आपको अपने मोबाइल फ़ोन से कंप्यूटर या लैपटॉप को कण्ट्रोल करना है तब आपको सॉफ्टवेयर के द्वारा अपने फ़ोन को कंप्यूटर या लैपटॉप से कनेक्ट करना पड़ता है| 

एंड्राइड मोबाइल फ़ोन को अपने विंडोज के कंप्यूटर या लैपटॉप से कनेक्ट करने के लिए बहुत से सॉफ्टवेयर मिलते है उन्ही में से एक है Chrome Remote Desktop. इस सॉफ्टवेयर को सबसे पहले अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में Chrome एक्सटेंशन के रूप में इंस्टॉल करना है.

कंप्यूटर में Chrome Remote Desktop का पूरा सेटअप करने के बाद आप अपने मोबाइल फ़ोन में Chrome Remote Desktop एप्लीकेशन को इनस्टॉल कर सकते है और पूरी तरह से अपने कंप्यूटर को अपने मोबाइल फ़ोन से कण्ट्रोल कर सकते हैं|

मोबाइल एप्प को कंप्यूटर में कैसे चलाये?

विन्डोव्स 11 में मोबाइल फ़ोन के आप्लिकेशन को डाउनलोड करने का भी ऑप्शन है लेकिन जिनके पास विन्डोव्स 7,8 और 10 है वे लोग अपने कंप्यूटर में एंड्राइड मोबाइल फ़ोन का एप्लीकेशन इनस्टॉल करना चाहते है या इस्तेमाल करना चाहते है तो सॉफ्टवेयर की मदद से कर सकते हैं| 

ब्लूस्टैक एक सॉफ्टवेर है जिसको अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में इनस्टॉल करके आप कोई भी एंड्राइड एप्लीकेशन को अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में चला सकते हो|

Rate this post

Leave a Comment